चंड़ीगढ़ में 12वां सामूहिक विवाह आयोजित किया गया

चंड़ीगढ़ में 12वां सामूहिक विवाह आयोजित किया गया

चंडीगढ़ शहर में मंगलवार को आठ जोड़ों ने एक-दूजे का हाथ थामा और अग्नि के सात फेरे लेकर सात जन्मों तक साथ रहने का वचन लिया। वहीं शहरवासियों ने बाराती बनकर जोड़ों को आशीष दिया। सामूहिक विवाह का आयोजन सेक्टर 44 के कम्युनिटी सेंटर में भारतीय विकास परिषद ईस्ट 1-2 के द्वारा कराया गया था। इस सामूहिक विवाह समारोह में शहर के कई जाने.माने चेहरे शामिल हुए। जिन्हें संस्था द्वारा मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया। सामूहिक विवाह में चंडीगढ़ भाजपा के पूर्व अध्यक्ष संजय टंडन, मौजूदा अध्यक्ष अरुण सूद, पूर्व मेयर आशा जैसवाल सहित क्षेत्रीय पार्षद रविंदर कौर गुजराल व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित हुए। उन्होंने परिषद के इस कार्य की सराहना की और नवविवाहित जोड़े को आशीर्वाद देते हुए इसमें हरसंभव मदद करने की भी बात कही।

भारत विकास परिषद के द्वारा इस बार 12वां सामूहिक विवाह है। इन 11 सालों में क्लब के द्वारा 200 से भी ज्यादा जोड़ों का विवाह बिना दहेज के कराया गया। शादी में वैवाहिक जोड़े को घर के सामान सहित रसोई का सामान, साइकिल, सिलाई मशीन इत्यादि सहित 58 वस्तुएँ भेंट स्वरूप दिए गए। संस्था के पदाधिकारियों ने बताया कि बहुत से गरीब परिवार की लड़कियों की शादी पैसों के कारण धूमधाम से नहीं हो पाती है। ऐसी ही कन्याओं की शादी का बीड़ा भारत विकास परिषद उठाता है और उनके सुखी भविष्य जीवन की मंगल कामना के साथ उनकी शादियां करवाता है। इस अवसर पर संस्था के नीलम गुप्ता, मनमोहन जॉली, सुमिता कोहली, सुमन गोयल और अन्य सदस्यों ने अपनी अहम भूमिका निभाई। बारात में सैंकड़ों की संख्या में कई गणमाण्य लोगों समेत शहरवासी शामिल हुए।  : 18 February 2021

 

चंडीगढ़,। चंडीगढ़ शहर में मंगलवार को आठ जोड़ों ने एक-दूजे का हाथ थामा और अग्नि के सात फेरे लेकर सात जन्मों तक साथ रहने का वचन लिया। वहीं शहरवासियों ने बाराती बनकर जोड़ों को आशीष दिया। सामूहिक विवाह का आयोजन सेक्टर-44 के कम्युनिटी सेंटर में  भारतीय विकास परिषद ईस्ट 1-2 के द्वारा कराया गया था। भारत विकास परिषद के द्वारा इस बार 12वां सामूहिक विवाह है। इन 11 सालों में क्लब के द्वारा 200 से भी ज्यादा जोड़ों का विवाह बिना दहेज के कराया गया। शादी में वैवाहिक जोड़े को घर के सामान सहित रसोई का सामान, साईकल, सिलाई मशीन इत्यादि भेंट स्वरूप दिए गए।

संस्था के पदाधिकारियों ने बताया कि बहुत से गरीब परिवार की लड़कियों की शादी पैसों के कारण धूमधाम से नहीं हो पाती है। ऐसी ही कन्याओं की शादी का बीड़ा भारत विकास परिषद उठाता है और उनके सुखी भविष्य जीवन की मंगल कामना के साथ उनकी शादियां करवाता है। इस अवसर पर संस्था के नीलम गुप्ता, मनमोहन जॉली, सुमन गोयल, और अन्य  सदस्यों ने अपनी अहम भूमिका निभाई। बारात में सैंकड़ों की संख्या में कई गणमाण्य लोगों समेत शहरवासी शामिल हुए।
दैनिक जागरण : 16 February 2021

 

Close Menu