35 वे रक्तदान शिविर में महिला-पुरुषों ने खूब उत्साह दिखाया – 228 ने किया रक्तदान

35 वे रक्तदान शिविर में महिला-पुरुषों ने खूब उत्साह दिखाया – 228 ने किया रक्तदान

हिण्डौनसिटी. भारत विकास परिषद की स्थानीय शाखा की ओर से राजकीय चिकित्सालय में रविवार को लगे 35 वे रक्तदान शिविर में महिला-पुरुषों ने खूब उत्साह दिखाया। करीब साढ़े पांच घंटे लगे शिविर में 228 लोगों ने रक्तदान किया। शिविर मेंं करौली जिला अस्पताल व जयपुर के एसएमएस अस्पताल की ब्लड बैंक टीम ने रक्त संग्रहण किया।

राजकीय चिकित्सालय के मातृ-शिशु इकाई भवन में नगर परिषद सभापति अरविंद जैन, एसडीओ सुरेश यादव, पीएमओ डॉ. नमोनारायण मीणा, भारत विकास परिषद अध्यक्ष देवेंद्र जांगिड़ तथा जगदीश प्रसाद ऐरन ने भारत माता व स्वामी विवेकानंद के चित्रपट के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया।

इस दौरान सभापति ने कहा कि हिण्डौन में रक्तदान के प्रति जागरुकता से चली ‘जिओ और जीवन दो’ की बयार दूसरे जिलों तक क्षेत्र को ख्यात दे रही है। एसडीओ ने कहा कि शहर से लेकर गांव तक सभी धर्म व जातियों के लोगों में रक्तदान के प्रति जागरुकता होगा अपने आप में मिसाल है। भाविप के अध्यक्ष देवेंद्र जांगिड़ कहा के रक्तदान परिषद प्रमुख प्रकल्प है। वर्ष 2018-19 में 3 शिविर लगा कर 600 यूनिट व वर्ष 2017-18 में 4 शिविरों में 774 यूनिट रक्तदान हुआ।

शिविरों से करौली की मदर ब्लड बैंक सहित जयपुर के एसएमएस सहित अन्य ब्लड़ बैंकों में रक्त का उपब्धता में सहयोग किया जाता है। परिषद के सचिव पवन कुमार ऐरन ने बताया कि शिविर में करौली ब्लड़ बैंक ने 92यूनिट व एसएमएस की ब्लड़ बैंक ने 136 यूनिट रक्त संग्रहण किया। इधर दोपहर में भरतपुर रेंज के डीआईजी लक्ष्मण गौड़ ने रक्तदान शिविर का अवलोकन किया। साथ ही अपने शहर में रक्तदान की अलख की सराहना किया। उन्होंने रक्तदाताओं को सम्मानित भी किया।

उद्घाटन से पहले लगी कतार- रक्तदान के प्रति लोगों ने उत्साह ऐसा था कि उद्घाटन से पहले ही रक्तदान के लिए कतार लग गई। ऐसे में पंजीयन एवं प्रमाण-पत्र के लिए काउंटरों पर भीड़ लग गई। शिविर में पहले पहुंंची करौली ब्लड बैंक की टीम के कक्ष के बाहर रक्तदाताओं की कतार लग गई। शफी18वीं बार बने प्रथम रक्तदाता-प्रथम रक्तदाता बनने जुनूनी युवक शफी ताज रविवार को 18 वी बार शिविर में ओपनर(उद्घाटन) रक्तदान बने हैं। प्रथम रक्तदाता के रूप में शफी को सभापति, एसडीओ व पीएमओ ने स्मृति चिह्न व प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया। सुबह 9.30 बजे शुरू हुए शिविर में रक्तदान करने शफी एक घंटे पहले पहुंंच गए। करौली ब्लड बैंक की टीम आने उन्होंने सबसे पहले रक्तदान किया।

सपत्नीक किया रक्तदान- शिविर में रक्तदान में पुरुषों के साथ महिलाओं ने भी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। कई आरती बिंदल सहित 10 महिलाओं ने रक्तदान किया। वहीं डॉ.आशीष शर्मा व पवन ऐरन ने सपत्नीक रक्तदान किया।

Patrika News : 14 January, 2019

Close Menu