शल्य व नेत्र चिकित्सा शिविर में 6712 मरीजों की जांच

शल्य व नेत्र चिकित्सा शिविर में 6712 मरीजों की जांच

निंबाहेड़ा: राजकीय महाविद्यालय परिसर में हरीश आंजना एज्युकेशन सोसायटी के तत्वावधान में सहकारिता एवं इंदिरा गांधी नहर परियोजना मंत्री उदयलाल आंजना एवं पूर्व प्रधान मनोहरलाल आंजना की माता स्व. गोपीबाई आंजना एवं पिता स्व. भैरूलाल आंजना की पुण्य स्मृति में भ्रमणशील शल्य चिकित्सा ईकाई जयपुर के सहयोग से आयोजित दस दिवसीय निशुल्क शल्य एवं नैत्र चिकित्सा शिविर में दूसरे दिन गुरूवार को भी बड़ी संख्या में मरीज पहुंचे एवं पंजीयन कराया। शिविर में बुधवार एवं गुरूवार दो दिन में 6712 मरीजों का पंजीयन किया जाकर चिकित्सकों द्वारा जांच उपरांत 407 मरीजों को ऑपरेशन के लिए भर्ती किया गया।

भर्ती मरीजों के ऑपरेशन शुक्रवार से प्रारंभ होंगे। शिविर में सिद्दी विनायक आयुर्वेद न्यूरो एवं एक्युप्रेशर थेरेपी सेंटर नीमच के चिकित्सक डाॅ. विनोद कुमार मुरडिय़ा ने 248 मरीजों का उपचार किया। भ्रमणशील शल्य चिकित्सा ईकाई राजस्थान जयपुर के निदेशक डॉ. श्यामसुंदर एवं शिविर प्रभारी डाॅ. पूनम गुप्ता से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस दस दिवसीय निशुल्क शल्य एवं नेत्र-चिकित्सा शिविर में आंखों के ऑपरेशन जिला चिकित्सालय चित्तौड़गढ़ में भ्रमणशील शल्य चिकित्सा ईकाई के डाॅ. बेलामोहन तिवारी, डाॅ. अनिल सोनी, डाॅ. सिद्धेश गर्ग, डाॅ. राधेश्याम कच्छावा एवं एनेस्थेटिक डाॅ. सरोज पारिख करेंगे।

विभिन्न ऑपरेशन शिविर परिसर में ही विशेष तौर पर बनाए ऑपरेशन थियेटरों में शुक्रवार सुबह 8 बजे से किए जाएंगे। जिसमें स्त्री रोग शल्य चिकित्सक डाॅ. हिमानी मौर्य, डाॅ. गौतम डामोर, डाॅ. बबिता कर्नावट, डाॅ. बी.डी. गोयल, डाॅ. श्रुति एवं डाॅ. दीप्ति करेगे। नाक कान गला से संबंधित ऑपरेशन डॉ. सुभाष चौधरी, जनरल सर्जरी के ऑपरेशन डाॅ. शिवराम मीणा, डाॅ राकेश गुप्ता, डाॅ. राजवीर सिंह, डाॅ. कल्पना मीणा एवं डाॅ. राजीव शर्मा करेगे। इस दौरान निश्चेतन विशेषज्ञ डाॅ. श्यामसुन्दर एवं डाॅ. पूनम, डाॅ. सीपी शर्मा अपनी सेवाएं देंगे।

चिकित्सा शिविर में 50 मरीज लाभान्वित
बेगूं | भारत विकास परिषद की ओर से गुरुवार काे आयोजित एक्युप्रेशर चिकित्सा शिविर में 50 मरीजों का उपचार किया गया। शिविर में घुटना, कमर दर्द व लकवा, शुगर, बीपी अादि के 50 मरीजों काे चिकित्सा का लाभ मिला। संस्थान के संरक्षक प्रकाश पाेखरना, गोविंद लखी अादि पदाधिकारी माैजूद रहे।

Dainik Bhaskar: Feb 01, 2019
Close Menu