बच्चों को संस्कार से जोड़ने की आवश्यकता  – राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी

बच्चों को संस्कार से जोड़ने की आवश्यकता – राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी

कोलकाता : आधुनिकता के दौर में बच्चे पश्चिमी संस्कृति से प्रभावित हो रहे हैं, ऐसे में बच्चों को संस्कार से जोड़ने की आवश्यकता है. भारत को विश्वगुरू बनाने के लिए शिक्षा के विभिन्न नये प्रयास निरंतर चलते रहना चाहिए. ये बातें राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी ने रविवार को  ‘भारत विकास परिषद के 56वें स्थापना दिवस’ पर आयोजित कार्यक्रम में कही.

श्री त्रिपाठी ने भारत विकास परिषद संस्था के ‘भारत को जानो’ व ‘राष्ट्रीय सामूहिक गान प्रतियोगिता’ की सराहना की. कार्यक्रम के दौरान संस्था की ओर से 10 वीं व 12 वीं में 90 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया.

भारत विकास परिषद के पूर्व अध्यक्ष नंदलाल सिंघानिया ने राज्यपाल का परिचय देते हुए उनके साहित्यिक जीवन को सभी के समक्ष रखा. भारत विकास परिषद के अध्यक्ष लीलाधर पोद्दार, उद्योगपति सज्जन कुमार, उद्योगपति घनश्याम शोभासरिया, डॉ रिता भट्टाचार्य ने भी अपने वक्तव्य रखे. कार्यक्रम का संचालन संस्था के सचिव राजीव अग्रवाल ने किया.

प्रभात खबर: 15 July, 2019

Leave a Reply

Close Menu