परिषद के कार्यकर्ताओं ने सीएए के समर्थन में किया प्रदर्शन

परिषद के कार्यकर्ताओं ने सीएए के समर्थन में किया प्रदर्शन

मेरठ। भारत विकास परिषद के कार्यकर्ताओं ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के प्रति समर्थन जताने के लिए प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने सीएए के समर्थन में पोस्टर लेकर नारे लगाए। साथ ही इन लोगों ने इस कानून को बेहद ही जरूरी कदम बताया।

लोगों के हाथों में पोस्टर थे और वे CAA के समर्थन में नारे लगा रहे थे। इन पोस्टरों पर लिखा हुआ था कि ‘सीएए सम्मिलित करने वाला है न कि भेदभाव करने वाला’, ‘सीएए सताए गए अल्पसंख्यकों के लिए हैं’। परिषद के लोगों ने सीएए के समर्थन में रैली निकली। इन लोगों ने सीएए के समर्थन में नारे भी लगाए। इन पोस्टरों में लिखा हुआ था कि सीएए एक प्रगतिशील कानून है, ‘अल्पसंख्यकों का दमन बंद करो’, ‘सीएए सबसे ज्यादा उदारवादी कानून है’। लोगों ने सीएए के प्रति समर्थन जताने के लिए विभिन्न स्थानों पर कार्यक्रम किया और सीएए को भारत सरकार की तरफ से उठाया गया ऐतिहासिक कदम करार दिया।

सीएए के समर्थन में लोग कमिश्नरी चौराहे पर एकत्र हुए थे। उनके हाथ में पोस्टर थे और वे सीएए और नरेंद्र मोदी सरकार के समर्थन में नारे लगा रहे थे। सीएए के मुताबिक हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और इसाई समुदाय के जो लोग धार्मिक प्रताडऩा के चलते पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से 31 दिसंबर, 2014 तक भारत आ गए हैं, उन्हें भारतीय नागरिकता दी जाएगी।

Patrika News : 9 February, 2020

Close Menu