परिषद ऐसा संगठन है, जहां पद नहीं, सेवा की कामना लेकर लोग आते हैं

परिषद ऐसा संगठन है, जहां पद नहीं, सेवा की कामना लेकर लोग आते हैं

इटावा : सेवा के क्षेत्र में आने वालों का यही संकल्प होना चाहिए कि उन्हें समाज के निर्माण एवं राष्ट्र के विकास में सदैव अपना सर्वश्रेष्ठ ही योगदान करना है। भारत विकास परिषद देश का ऐसा समाजसेवी संगठन है, जहां पद नहीं, सेवा की कामना लेकर लोग आते हैं।

ये विचार भारत विकास परिषद मुख्य शाखा के नवनिर्वाचित दायित्वधारियों एवं सदस्यों के लिए आयोजित दायित्व ग्रहण समारोह में परिषद के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. सुरेश चंद्र गुप्ता ने व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि सेवा का मार्ग बहुत कठिन जरूर है, लेकिन जो समाज के यशस्वी और भाग्यवान व्यक्ति होते हैं, उन्हें ही सेवा का दायित्व सुलभ होता है। इसलिए आज जो लोग भी परिषद में नया दायित्व ग्रहण कर रहे हैं, उन्हें ये संकल्प लेना चाहिए कि वे आज की परिस्थितियों के अनुरूप नई पीढ़ी को सेवा के संस्कारों से जोड़ते हुए अपने सर्वश्रेष्ठ योगदान के साथ देश और समाज की सेवा के कार्यों में जुटेंगे।

Close Menu