जिस घर में बेटी नहीं उस घर में खुशियां नहीं, ये सच्चाई मान लीजिये

जिस घर में बेटी नहीं उस घर में खुशियां नहीं, ये सच्चाई मान लीजिये

आगरा। जिस घर में बेटी नहीं उस घर में खुशियां नहीं। यह संदेश नृत्य नाटिका के माध्यम से भारत विकास परिषद सर्वोदय शाखा के द्वितीय अधिष्ठापन समारोह में दिया गया। साथ ही पेड़ लगाओ-पानी बचाओ का संदेश देते हुए परिषद की सदस्याओं ने नृत्य नाटिका के माध्यम से बढ़ते प्रदूषण व घटते भूमिगत जलस्तर की समस्या से बढ़ने वाले खतरों व समाधानों से भी अवगत कराया।

कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि भाविप के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. केशव दत्त गुप्ता व प्रांतीय अध्यक्ष विनय सिंह ने भारत माता के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर किया। सर्वप्रथम परी अग्रवाल ने गणेश वंदना प्रस्तुत की। अध्यक्ष अजय गोयल ने अतिथियों का स्वागत किया। अजय गोयल को अध्यक्ष, सचिव मनीष गोयल व कोषाध्यक्ष का पदभार रवीन्द्र गोयल को सर्वसहमति से प्रदान किया गया। सचिव मनीष गोयल ने वार्षिक रिपोर्ट का ब्यौरा देते हुए कहा कि इस वर्ष शाखा द्वारा सेवा कार्यों को और विस्तार दिया जाएगा।

संचालन उर्मिला माहेश्वरी, अतुल गोयल व सीमा गोयल ने किया। इस अवसर पर मुख्य रूप से कोषाध्यक्ष रवीन्द्र गोयल, कार्यक्रम संयोजक, मयंक अग्रवाल, श्याम सुन्दर माहेश्वरी, डॉ. जेके जुनेजा, मीरज अग्रवाल, मनीष अग्रवाल, अनूप अग्रवाल, मनोज गर्ग, पवन अग्रवाल, मनीषा गोयल आदि मौजूद थीं। नृत्य नाटिका यशी गोयल, रीया गोयल, नीरू गर्ग, लक्ष्मी गोयल, रीना अग्रवाल, रूबी गोयल, गायत्री आदि ने प्रस्तुत की।

पत्रिका: 1 May, 2019
Close Menu