Movies Gallery

 Photo Gallery

   States / Prants

 Branch PSTs

  Finance

 Some Useful Articles

   BVP in the News

   States' Publications

 News from the Branches

 Forms & Reporting Formats
More Information
 Feedback 
 Website Contents 
  FAQs

 

 



Be a partner in development of the Nation

Bharat Vikas Parishad is striving for the development of the Nation. You can also participate in this effort  by (a) becoming a member of Bharat Vikas Parishad, (b) enrolling yourself as a “Vikas Ratna” or “Vikas Mitra”  and (c)  donating for various sewa &  sanskar projects.

Donations to Bharat Vikas Parishad are eligible for income tax exemption under section 80-G of Income Tax Act. Donations may kindly be sent by cheque / demand draft in favour of Bharat Vikas Parishad, Bharat Vikas Bhawan, BD Block, Behind Power House, Pitampura, Delhi-110034.


 
 

.
 

 


Regional Conferences: 2017-18
 

 
       

North

 

North Central

 

Central

 

North East

 
               
 
During the year, regional conferences were organised as under:
  • North Region: 24 December. 2017 at Ambala (Haryana North)
  • North Central Region: 23-24 December, 2017 at Moradabad (Rohilkhand)
  • East Region: March, 2017 at Gaya (Magadh Bihar)
  • North East Region: 17 Dec. 2017 at Silchar  (Assam)
  • Central Region: 23-24 Dec. 2017 at Gwalior (Madhya Bharat North)
  • West Region:  Last week of Jan. 2018 at Somnath (Saurashtra Kutchh)
  • South Region: 24th -25th Dec.17 at Tirupathy (Andhra Pradesh)

North Region Conference: 2017-18
उत्तर रीजन, अम्बाला : उत्तर रीजन के मंथन-2017 का पाँच राज्यों के 3000 प्रतिनिधियों (जम्मू-कश्मीर, हिमाचल, पंजाब, हरियाणा व दिल्ली) का रीजनल अधिवेशन अम्बाला के एस.डी. कॉलेज के प्रांगण में स्वामी यतीन्द्रानन्द गिरि जी द्वारा ध्वजारोहरण के बाद राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री सुरेन्द्र कुमार वधवा जी की अध्यक्षता में प्रारंभ हुआ। स्वामी जी ने भारतीय संस्कृति को रेखांकित करते हुए परिषद् के द्वारा भारत के निर्माण कार्यों की प्रशंसा की और पाश्चात्य संस्कृति के अन्धानुकरण के प्रति सचेत किया। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज ने अम्बाला के द्वारा स्वतंत्रता संग्राम में किये गये योगदान की चर्चा की। उन्होंने अम्बाला में शहीदों का एक स्मारक बनाने की घोषणा की। इस अवसर पर आदेश विश्वविद्यालय, हरियाणा के कुलपति डाॅ. एच.एस.गिल की गरिमामयी उपस्थिति रही।
मंथन सत्र में प्रसिद्ध विचारक डॉ. बजरंग लाल गुप्ता पे परिषद् के सेवा कार्यों और लक्ष्य के प्रति लगातार चिन्तन करने का आग्रह किया। उन्होंने सक्षम भारत के निर्माण में आ रहे संभ्रम एवं संदेहों के बारे में परिषद् के सदस्यों के विचारों को स्पष्ट एवं सटीक रूप से जानने और अपनाने का अग्रह किया। आर्थिक विकास की पाश्चात्य अवधारणा के मापको जैसे जी.डी.पी., राजस्व, आयात-निर्यात के बारे में असहमति जाहिर करते हुए संयमित उपयोग की भारतीय अवधारणा को सही ठहरा कर संगठनात्मक संत्र में प्रान्तीय आख्याओं के साथ परिषद् के कार्यों के प्रभाव पर श्रीमती अविनाश शर्मा, डॉ. अशोक गर्ग, भूपेन्द्र मोहन भण्डारी, रीजनल संरक्षक के द्वारा अकितम पंजीकरण, युगल पंजीकरण तथा प्रतिनिधि संख्या के आधार पर सम्मानित किया गया।

समापन सत्र में राष्ट्रीय महामंत्री श्री अजय दत्ता के साथ माननीय मुख्य मंत्री हरियाणा श्री मनोहर लाल खट्टर, अनिल विज, अमित जैन तथा लक्ष्मण दीवान (गुरुग्राम) ने परिषद् कार्यों की रोचक प्रदर्शनी का अवलोकन करने के बाद कहा कि माननीय मुख्य मंत्री जी ने कहा हमारी संस्कृति में नर सेवा नारायण सेवा का संदेश दिया गया है। उन्होंने जन जागरण एवं सेवा प्रकल्पों के संचालन में परिषद् के योगदान की प्रशंसा की। अपने वक्तव्य में उन्होंने स्वामी विवेकानन्द तथा सिक्ख गुरुओं के बलिदान को स्मरण करने का आग्रह किया। उन्होंने परिषद् के सेवा प्रकल्प हेतु विकास जैन द्वारा प्रदत्त भूखण्ड के दान की प्रशंसा की और भवन निर्माण के लिए रुपये 11 लाख अनुदान की घोषणा की। रीजनल अधिवेशन स्मारिका ‘मंथन’ का विमोचन भी सम्पन्न हुआ। प्रान्तीय आख्या श्री परमजीत पाहवा की टीम तथा सुधीर वर्मा की निर्देशन के द्वारा सभी व्यवस्थाओं को सुचारू बनाया गया। राष्ट्रीय मंत्री निधिश गुप्ता, राकेश सहगल, श्रीनिवास बिहानी ने सत्रों का संचालन किया। सत्रों के अन्तराल में विद्यालय छात्रों द्वारा प्रासंगिक एवं उद्देश्यपूर्ण सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति, संयुक्त महामंत्री विनीत गर्ग की कुशल कार्य योजना के कारण सभी प्रतिनिधि सक्रिय श्रोता रहे।


उत्तर मध्य रीजन: 2017-18
उत्तर मध्य रीजन (उत्तर प्रदेश और उत्तराखण्ड राज्यों) का रीजनल अधिवेशन मुरादाबाद के होटल क्लार्क-इन के सुसज्जित सभागार में सम्पन्न हुआ। कुल 530 प्रतिनिधियों एवं महापौर विनोद अग्रवाल जी, रीजनल चेयरमैन श्री केशव दत्त गुप्ता तथा संजीव बंसल, डॉ. आर.बी.श्रीवास्तव, संयुक्त महामंत्री की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ।

प्रान्तीय आख्या के सत्र में सभी 11 प्रान्तों के महासचिवों के द्वारा आख्या प्रस्तुत की गई। इस अवसर पर ग्रामीण विकास योजना के चेयरमैन श्री अशोक जाधव ने परिषद् के ग्राम बस्ती विकास योजना की प्राथमिकताओं जैसे स्वच्छता, शिक्षा, पर्यावरण, पेयजल आदि का जिक्र करते हुए उत्तर मध्य रीजन में ग्रामों को गोद लेने हेतु प्रोत्साहित किया। श्री मनोज गोयल ने प्रौढ़ साधना शिविर, सुनील खेड़ा द्वारा नव निर्मित भारत लैब रुद्रपुर की प्रगति, श्री कुलभूषण जी द्वारा राष्ट्रीय परिषद् बैठक आगरा, मुकेश जैन द्वारा लखनऊ रीजनल समूहगान प्रतियोगिता और भारत भूषण जुनेजा ने भारत को जानो के रीजनल कार्यक्रम, श्री ब्रह्मानन्द पेशवानी ने महिला सम्मेलन की आख्या प्रस्तुत की। अनिरूद्ध अग्रवाल जी द्वारा लेखा अनुशासन एवं जीवनराम गुप्ता ने संस्कार प्रकल्पों की चर्चा की।

महिला सत्र में महिला नेतृत्व के विकास एवं परिषद् के आयामों पर विस्तृत चर्चा की गई। इस सत्र में डॉ. चम्पा श्रीवास्तव, सम्पादक ‘ज्ञान प्रभा’, डॉ. बबिता गुप्ता, अध्यक्ष आईएमए तथा शालिनी अग्रवाल, अनीता जैन रीजनल महिला संयोजिका ने अपने-अपने विचार प्रस्तुत किये। पश्चिम उत्तर प्रदेश की प्रान्तीय टीम श्री राजीव गोयल अध्यक्ष, इन्दू वाष्र्णेय, महासचिव, पंकज सक्सैना, कोषाध्यक्ष, आभा जिन्दल, महिला संयोजिका ने विकास रत्न बनने की घोषणा की। झाँसी के डॉ. कृष्ण गोपाल द्विवेदी ने भारत विकास परिषद् के परिवार (पुत्र/पुत्री) को उनके आयुर्वेदिक महाविद्यालय में प्रवेश पर शुल्क में रुपये 51000/- की छूट की घोषणा की। क्षेत्र में महत्वपूर्ण एवं प्रभावी कार्यक्रमों में खटीमा का दीपावली मेला, उपस्थिति 90000, रुद्रपुर में दो दिवसीय दीपावली मेला, राम नगर में साहिबाबाद पर नववर्ष पर तीन दिवसीय मेला आदि का विस्तार पूर्वक वर्णन किया गया।

समापन सत्र में विधायक रितेश गुप्ता ने अधिवेशन की प्रशंसा करते हुए परिषद् के सेवा कार्यों की सराहना की। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष केन्द्रीय कार्यालय डॉ. सुरेश चन्द्र गुप्ता ने क्षेत्र के सभी जिलों में शाखा स्थापित करने एवं सेवा कार्य प्रारंभ करने का आह्नान किया। अजय विश्नोई, डॉ. पी.के. अग्रवाल, श्री शशि भूषण शास्त्री, डॉ. नीतिन दालभ की प्रान्तीय टीम ने अधिवेशन को सफल बनाने में अथक परिश्रम किया।


North East Region: 2017-18
Silchar: One day conference of N.E. Region was organized at Silchar. Prant President Anil Sharma, Regional Patron Dr. S. Rajendra Singh, National Secretary General Ajay Datta ji and Swadesh Ranjan Goswami graced the conference. A Souvenir was released at this occasion.

Shri Joy Kumar Das and Nitu Roy (Drivers of dead body carrying van) were felicitated by our National Secretary General. Patron Dr. Rajendra Singh spoke about BVP in his perspective. He was keen to get enrolled as Vikas Mitra. He appealed to the delegates to serve the society through BVP. Dr. S.K.Nandi a renowned orthopedic surgeon was felicitated by Meghalaya branch. He asserted that many children were suffering for cerebral palsy in this area. Swadesh Ranjan Goswami stressed the need to open new branches in the area. We should take it as a mission of life. Ajay Datta Ji gave a call to join BVP as a social responsibility. We should establish a land mark project of service in the area and for this expansion of branches and membership was necessary.

Delegates from Nagaland informed that students of Dimapur participated in regional level of quiz competition. Tripura Prant organized 2 medical camps with 231 beneficiaries, tree plantation and NGSC with participation of 6 school teams. Assam Prant General Secretary Santlal Mittal reported that from 21 branches, 10652 students participated in BKJ written exam., GVCA & Blood Donation Camp. Computer training at Karimganj and Abhaypuri, two Yoga Camps, Aatm Darshan by Geetta Chanting, Viklang Kendra at Guwahati, Homeopathic dispensary at Kokrajhar, Tailoring training at Tejpur. Manipur state has seven branches with one Mahila Shakha. State organized one Mahila Conference, one state conference. Prants is running 2 Tailoring Center, Thanga Computer Center, and Imphal Yog Training Center.

Flood relief work Rs. 7 Lakh was distributed. In Mizoram one branch is working Tree Plantation was observed. In Sikkim and Meghalaya one branch each has been established. Mahila Seminar was led by Smt. Beena Bora. Delegates from Meghalaya, Karimganj and Silchar spoke on women empowerment. They stressed that Indian Culture and tradition can only be strengthened by women.

Vinod Bagaria Regional Secretary asked for opening of new branches with young members. Branches should maintain financial discipline. Deepok Ula Pratha and Prittam Datta gave guidelines for conducting viklang and blood donation camps. Ajay Datta Ji in his thought provoking speech, appealed for 1500 members in this region. Our National President Shri Sitaram Pareek and National Secretary General Shri Ajay Datta Ji both shared their experiences and motivated us to do more welfare activities under the banner of BVP in north-east region.


 

Central Region - मध्य रीजन: 2017-18
ग्वालियर
: 23-24 दिसम्बर, 2017 को राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ प्रान्तों से आये 832 प्रतिनिधियों के मध्य आरोह 2017 का आगाज हुआ। जो व्यक्ति समाज के लोगों से सम्पर्क नहीं करता वह समाज का क्या काम करेगा। जब अपने आप में सम्पर्क का भाव होगा तभी सामाजिकता का भाव पैदा होगा। परिषद् का उद्देश्य समर्थ और संस्कारित भारत है, परिषद् के पाँच सूत्र - सम्पर्क, सहयोग, संस्कार, सेवा और समर्पण पर हरियाणा के राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी ने विचार प्रकट किये। मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के न्यायाधीश जितेन्द्र माहेश्वरी और अमर सिंह तोमर ने भी सम्मेलन को संबोधित किया। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पी.के. जैन, राष्ट्रीय वित्त मंत्री ओम प्रकाश कानूनगो ने कहा कि हमें समाज में जागरूकता लाते हुए उन्हें समाज कार्यों के लिए प्रेरित करना है। परिषद् को ऐसे सेवा कार्य करने चाहिए कि लोग सेवा कार्यों को स्मरण करें। सम्मेलन में ओम प्रकाश मेहता सदस्य बाड़मेर शाखा को सम्मानित किया गया। श्री मेहता ने लगभग 55 हजार नेत्र ऑपरेशन का कार्य सम्पन्न कराया है तथा बाड़मेर में परिषद् के सेवा कार्यों के लिए भूखण्ड प्रदान किया है। सम्मेलन का कुशल संचालन राष्ट्रीय संयुक्त महामंत्री अरुण डागा ने किया। उद्घाटन सत्र में प्रदेश के कैबिनेट मंत्री माया सिंह ने कहा कि परिवार की संस्था केवल भारत में ही विद्यमान है। महिलाओं ने हमारी संस्कृति को संजोये रखा है। महिलाएँ ही अगली पीढ़ी में संस्कार प्रदान करने का कार्य करती है। हिन्दी विश्व विद्यालय के कुलपति रामदेव भारद्वाज ने कहा कि शिक्षा के साथ संस्कार आवश्यक है। कभी-कभी उच्च शिक्षा प्राप्त लोग भी समाज में असफल हो जाते हैं। श्रीमती शोभा फडनवीस, मंत्री महाराष्ट्र सरकार ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि घर और बाहर की दोहरी भूमिका के कारण महिलाओं की स्थिति चिन्तनीय बनी हुई है। जबकि महिलाएँ समाज का आधार है। हमारी संस्कृति में समाज और परिवार निर्माण में महिलओं की महती भूमिका है। मंत्री जी ने महिलाओं को सक्रिय भूमिका का निर्वाह के लिए प्रेरित किया। प्रान्तीय आख्या, प्रकल्प आख्या, महिला सहभागिता, मुक्त चिन्तन के सत्रों को राष्ट्रीय रमन चड्ढ़ा, राजेश जैन, सीताराम गोयल, डी.डी. शर्मा, मुकन सिंह राठौड़ ने संचालित किया। वृन्दावन गार्डन के परिसर में आयोजित अधिवेशन में संयोजक विनोद गर्ग, दीपक भार्गव स्वागताध्यक्ष ओ.पी.माहेश्वरी ने सहभागिता की। अधिवेशन में विभिन्न विद्वानों द्वारा प्रस्तुत विचारों को अलग से प्रस्तुत किया गया है।


South Region Conference: 2017-18
South Region organized Regional Conference at the holy town of Tirupati at Seven Hills College of Pharmacy. Delegates from AP, Telangana, Tamilnadu, Karnataka and Kerala attended the conference. The inaugural session was shared by National President Shri Sitaram Pareek, Shri Suresh Jain NOS, Shri N. Daulat Rao NVP and other regional office bearers. Dr. Sudha Rani, Sai Sudha Multi Specialty Hospital, Shri Galla Vijaya Naidu of Anu Raja Group of Industries graced the session. National President stressed to expand the activities and projects of BVP in the south region. He appreciated the arrangement made by the new branch Tirupati. National Vice President N. Doulath Rao focused on the activities of Gram Vikas, Viklang Yojana, NGSC and B.K. Jano. He appealed to the delegates for strengthening the organization in this region.

Shri Suresh Jain asked the delegates to involve elite of the society and expand our Sanskar and Sewa projects. To start permanent projects is the need of the hour. All prant general secretaries presented their reports regarding branches, membership and projects’ achievements. V.S hanker National Secretary presented a power point presentation on Sanskar and Sewa projects. Purushottam Shastri and K. Janardhan presented their views on Sampark and Sahyog.

Dr. B.D. Patel Regional Secretary from Karnataka and Karnataka Patron Shri Shub Ram Shetty displayed Power Point presentation on publicity matter and media. Finance Secretary Region Shri Narpat Raj Jain shared his views on financial discipline and CSR.

The conference concluded with the address of Mahadev Manglam Sundra Murti Prant Sanghchalak followed by the targets given to the region by the National President. Tirupati branch team was felicitated for their making comfortable arrangement for stay, food and auditorium etc. Conference concluded with vote of thanks by Purushottam Shastri.

Press Reports:
Tirupati:
The two-day South India Regional Conference of Bharat Vikas Parishad (BVP) started in Tirupati on Sunday. The National President of BVP Seetharam Pareekh, National Organising Secretary Suresh Jain and others inaugurated the conference by lighting a lamp.

Speaking on the occasion, Seetharama Pareekh described BVP as a service-cum-sanskar oriented, non-political socio cultural voluntary organisation. It is operating throughout India and dedicated to the growth and development of the country.

Suresh Jain told that the aim of BVP is to serve the society by involving all the elite people of the society. The main activities are handicapped welfare and rehabilitation, health and medical services, rural and urban slum development, women and child welfare among other things. He said that the organisation is having 65,000 members in South India.

TDP leader Dr R Sudha Rani, N Doulat Rao, Ramesh Chand Jain, GDV Prasad Rao and Galla Vijay Naidu also spoke on the occasion. While M Niranjan Babu welcomed the dignitaries, Purshotham Sastry proposed vote of thanks. D Jaypal Choudary, Dr GS Prasad and delegates from AP, Telangana, Karnataka, Tamilnadu, Kerala and Pondicherry participated. (Source: Hans India; 25 December, 2017.
Read the article )

Bharat Vikas Parishad regional conference concludes
Tirupati: The Two-day South India Regional Conference of Bharat Vikas Parishad (BVP) concluded in Tirupati on Monday. A women convention was organised on this occasion under the chairmanship of Pushpa Seetaram Pareek. M Aruna from Rajahmundry, Sailaja from Visakhapatnam, Sujatha Rao from Chennai, Kantha from Bengaluru and other women delegates participated in the convention. They discussed about Empowerment of Women and the problems being faced by women in the society.

They also discussed about the implementation of the schemes meant for women & girls like Beti Bachao & Beti Padhao, Abhaya Bharathi, Jandhan Yojana, and other schemes. BD Patel from Bengaluru gave a lecture on Service and Publicity through BVP. In another discussion during the Conference, Sitarama Parek, Prof M Sundara Murthy, Suresh Jain, Ramesh Jain and Purushotham Sastry have given their speeches.

Prof M Sundara Murthy told the delegates that Youth should participate in the development of the nation. Senior member of BVP Subbaramaish Setty of Bengaluru was felicitated on this occasion. DR M Niranjan Babu, Dr GS Prasad, D Jayapal Chowdary, Muni Sreedhar Pillai, Prof Varma and other delegates participated in the Conference. (Source: Hans India; 26 December, 2017. Read the article)


 
 

                                                                                                                                         top         Home 

 

Copyright©  Bharat Vikas Parishad . All Rights Reserved